उत्‍तराखंड में आरएसएस के प्रचारक रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत मुख्‍यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे!

उत्‍तराखंड में बीजेपी की प्रचंड जीत के बाद आज पार्टी नए मुख्‍यमंत्री का चुनाव करने जा रही है. सूत्रों के मुताबिक मुख्‍यमंत्री पद की रेस में अंतिम समय में त्रिवेंद्र सिंह रावत रेस सबसे आगे बताए जा रहे हैं. पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों की आज बैठक होगी. सूत्रों के मुताबिक उसमें ही त्रिवेंद्र सिंह रावत को नेता चुने जाने की संभावना है. हालांकि सीएम की रेस में पिथौरागढ़ से विधायक प्रकाश पंत का नाम भी है. चौबट्टाखाल से विधायक सतपाल महाराज भी दौड़ में बताए जा रहे हैं लेकिन केवल दो वर्ष पहले ही पार्टी में शामिल होने के कारण उन्हें सरकार में शीर्ष पद देने की संभावना कम नजर आ रही है.

त्रिवेंद्र सिंह रावत 
56 वर्षीय त्रिवेंद्र सिंह रावत डोइवाला सीट की नुमाइंदगी करते हैं. उनको पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह का करीबी माना जाता है. इस वक्‍त वह पार्टी की झारखंड यूनिट के प्रभारी हैं. वह 1983 से 2002 तक आरएसएस के प्रचारक रहे हैं और उस दौरान वह उत्‍तराखंड अंचल और बाद में राज्‍य के संगठन सचिव रहे हैं. वह पहली बार 2002 में डोइवाला सीट से एमएलए बने. तब से वहां से तीन बार चुने जा चुके हैं. वह 2007-12 के दौरान राज्‍य के कृषि मंत्री भी रहे.

आज देहरादून में होने वाली पार्टी विधायक दल की बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक भी मौजूद होंगे. प्रदेश पार्टी अध्यक्ष अजय भट्ट ने बताया कि शुक्रवार शाम तीन बजे होने वाली इस बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षकों, नरेंद्र सिंह तोमर और सरोज पांडे के अलावा उत्तराखंड के पार्टी मामलों के प्रभारी श्याम जाजू भी मौजूद रहेंगे. भट्ट ने कहा, ”पार्टी के सभी नवनिर्वाचित विधायकों से इस बैठक में और उसके एक दिन बाद नये मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह के मद्देनजर देहरादून में मौजूद रहने को कहा गया है.” भाजपा ने 70 में से 57 सीटें जीती हैं.

नई सरकार का शपथ ग्रहण 18 मार्च को शाम तीन बजे परेड ग्राउंड में होगा जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहेंगे. देश के कई अन्य प्रमुख पार्टी नेताओं के भी समारोह में शिरकत करने की संभावना है. परेड ग्राउंड में शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है.

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *