भोजन से एलर्जी: 60 साल से नहीं खाया अन्‍न का एक भी दाना 75 साल की इस अम्‍मा ने

Posted by - October 21, 2017

मध्‍यप्रदेश में रहती है एक अनोखी महिला मध्‍यप्रदेश के धामनोद में सुंद्रैल की रहने वाली हैं 75 साल की सरस्‍वती बाई जो एक मायने में दूसरी तमाम महिलाओं से बिलकुल अलग हैं। सरस्‍वती बाई ने पिछले 60 सालों से अन्‍न का एक दाना भी मुंह में नहीं डाला है इसके बावजूद वो ना सिर्फ स्‍वस्‍थ

Read More

सीबीआई छापों के बाद बोले लालू- सारे आरोप गलत, बीजेपी को खटमल की तरह उखाड़ फेकेंगे

Posted by - July 8, 2017

नई दिल्ली: दिल्ली-पटना सहित 12 ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी के बाद लालू यादव ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया है. लालू यादव ने बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा. रांची से पटना लौटे लालू ने शुक्रवार शाम बेटे तेजस्वी यादव के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की. सीबीआई ने आज पटना के अलावा दिल्ली, रांची,

Read More

मुंबई में एक करोड़ के पुराने नोटों के साथ चार गिरफ्तार

Posted by - May 18, 2017

मुंबई: यह बात हैरानी करने वाली और सरकार की व्यवस्था की पोल खोलने वाली है कि नोटबंदी की मियाद खत्म हुए भले ही दो महीने का वक्त हो गया हो, लेकिन अभी भी पुराने बंद हुए नोटों को नए नोटों में बदलने का सिलसिला लगातार जारी है. हालांकि पुलिस इस मामले में लोगों को गिरफ्तार

Read More

सुप्रीम कोर्ट ने दिया यह सुझाव तीन तलाक पर, AIMPLB के वकील कपिल सिब्बल बोले – ये अच्छा है

Posted by - May 17, 2017

नई दिल्ली: तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट ने All India Muslim Personal Low Board (ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड) के वकील कपिल सिब्बल को सुझाव दिया है कि मुस्लिम महिलाओं को निकाहनामे के वक्त ही तीन तलाक के लिए इनकार करने का विकल्प दिया जा सकता है? आप ये प्रस्ताव पास क्यों नहीं करते

Read More

नई दिल्ली: नोटबंदी के बाद शायद सरकार को नोटबंदी के पक्ष में दलील देने के लिए सबसे अच्छे आकंड़े मिले हैं. सीबीडीटी यानी सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस के आंकड़ों को जारी करते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि नोट बंदी के बाद 91 लाख लोगों को टैक्स के दायरे में लाया गया है. पीएम मोदी द्वारा सितंबर में नोटबंदी का ऐलान किया गया था. इसके बाद से इसके आंकड़ों को लेकर सवाल किए जाते रहे. ये आंकड़ा इसलिए सरकार के पक्ष में जाता है क्योंकि अमूमन देश में हर साल करीब 60 लाख नए टैक्स पेयर्स जुड़ते हैं जबकि 10 लाख टैक्स पेयर्स के दायरे से बाहर चले जाते हैं. 10 लाख लोग मौत या रिटायरमेंट जैसी वजह से टैक्स के दायरे से बाहर चले जाते हैं यानी कि करीब 50 लाख लोग हर साल टैक्स के दायरे में आते हैं. सीबीडीटी के आंकड़ों के मुताबिक 2013-14 में 46 लाख नए लोग टैक्स के दायरे में आए जबकि 2014-15 में 30 लाख लोग टैक्स के दायरे में आए. इस लिहाज से 91 लाख नए टैक्स पेयर्स का जुड़ना नोटबंदी के फैसले को सही साबित करने की दिशा में बड़ी बात है.

Posted by - May 17, 2017

नई दिल्ली: न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप में सदस्यता पाने के लिए रूस की ओर से मिल रहे रुखे संकेत से भारत ने कड़ा रुख अपना लिया है. मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने रूस को साफ संदेश दिया है कि अगर रूस अपने दोस्त चीन को मनाने की पहल नहीं करता है तो वह

Read More