GA4

लखीमपुर में व‍िवाह‍िता का अपहरण कर धर्मांधरतरण का प्रयास, रात में अस्‍त-व्‍यस्‍त हालत में पहुंची चौकी, शिकायत पंजीकृत, मुख्य आरोपी गिरफ्तार।

Spread the love

लखीमपुर-खीरी। लव जेहाद वोट के लालच में भले ही इसे तमाम दल नकारते आए हों। मगर इन सफेदपोशों के तमाम पर्दे हकीकत को ढक नहीं पाते। कट्टरवादी मानसिकता के जाने कितने लोग इसे समाज को तोडऩे व साम्प्रदायिक माहौल तैयार करने के लिए एक हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं। युवक पर जबरन मतांतरण कर निकाह का दबाव बनाने का आरोप, लखीमपुर में तीन के ख‍िलाफ एफआइआर।
विवाहिता ने बताया कि सेठघाट रोड के पास कस्बा ओयल के मुहल्ला जुलाहनटोला निवासी जियाउलहक उर्फ गब्बर व उसके छोटे भाई निजाउद्दीन उर्फ शमी ने असलहे के बल पर उसका अपहरण क‍िया और ओयल चौकी के निकट एक दुकान पर ले गए।

https://aakhirisach.com/wp-content/uploads/2022/02/IMG-20220222-WA0011.jpg

विवाहिता ने कस्बा निवासी दूसरे समुदाय के युवक पर असलहे के बल पर अगवा करने और बंधक बनाकर जबरन मतांतरण कर निकाह करने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है। कस्बे के मुहल्ला निवासी व्यक्ति की 25 वर्षीय पुत्री का विवाह लखीमपुर के मुहल्ला निवासी युवक के साथ हि‍ंदू रीति-रिवाज के अनुसार हुआ था। बीते शुक्रवार को विवाहिता रात करीब नौ बजे अस्त-व्यस्त हालत में रोते- बिलखते ओयल चौकी पर पहुंची और आपबीती चौकी इंचार्ज को बताई।

विवाहिता ने बताया कि वह ससुराल से शुक्रवार शाम सात बजे दूध लेने के लिए सेठघाट रोड गई थी। वहां घात लगाए बैठे कस्बा ओयल के मुहल्ला जुलाहनटोला निवासी जियाउलहक उर्फ गब्बर व उसके छोटे भाई निजाउद्दीन उर्फ शमी ने असलहे के बल पर जबरन उसे छोटा हाथी गाड़ी में बैठा लिया और जान से मारने की धमकी देते हुए ओयल चौकी के निकट स्थित अपनी सरिया सीमेंट की दुकान पर ले आए व दुकान के अंदर बंद कर दिया। वहां उसने अपने एक और साथी दीपक को बुलाया व विवाहिता के साथ मारपीट कर जबरन मतांतरण कर निकाह करने का दबाव बनाने लगे। कहा कि विवाहिता के चक्कर में उसने पत्नी को तलाक दे दिया, अब उसे उससे शादी करनी पड़ेगी। अन्यथा विवाहिता के पूरे परिवार को जान से मार दिया जाएगा। आरोप है कि इस पूरी घटना में कुछ मौलानाओं की भी संलिप्तता है। ओयल पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मुख्य आरोपित युवक गब्बर को हिरासत में ले लिया व चौकी पर मामला गंभीर होता देख चौकी इंचार्ज ने हिरासत में लिए गए युवक को थाना खीरी पहुंचा दिया। वहां पर पीडि़ता की तहरीर पर देर रात मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

इंस्पेक्टर खीरी फतेह सि‍ंह ने बताया कि तीन लोगों के विरुद्ध नामजद मुकदमा रात को ही पंजीकृत कर लिया गया था। एक आरोपित हिरासत में है, अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। मामले की गंभीरता को देखते हुए सर्विलांस व एसओजी की टीम भी लगा दी गई है, जल्द सभी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

दस वर्ष पूर्व भी नाबालिग को जबरन उठा ले गया था आरोपित।

 उक्त विवाहिता दस वर्ष पूर्व सन 2010 में जब मात्र 13-14 वर्ष की थी तो जियाउलहक उर्फ गब्बर उसे बहला फुसलाकर अपने कई साथियों के साथ कार में उठा ले गया था। इसके बाद पीडि़त परिवारीजन की तहरीर पर पुलिस ने गब्बर, उसके पिता अहमद अली व चाचा सहित तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस ने नाबालिग को कश्मीर से बरामद कर उक्त आरोपित युवक को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। एक बार फिर उक्त युवक ने वही घटना दोहराने का प्रयास किया और पकड़ा गया।

Last mile stone in the way of investigative journalism.
Please Save
www.aakhirisach.com
आज एक मात्र ऐसा न्यूज़ पोर्टल है जोकि
"जथा नामे तथा गुणे के साथ" पीड़ित के
मुद्दों को पुरजोर तरीके से उठा कर उनकी
आवाज मुख्य धारा तक ले जा रहा है।
हाथरस केस से लेकर विष्णु तिवारी के
मामले पर निष्पक्ष पत्रकारिता से आखिरी
सच टीम के दिशा निर्देशक ने अपना लोहा
फलाना दिखाना समाचार पोर्टल पर मनवाया
है। सवर्ण, पिछड़ी एवं अल्पसंख्यक जातियों
का फर्जी SC-ST एक्ट के मामलों से हो रहे
लगातार शोषण को ये कुछ जमीन के आखिरी
व्यक्ति प्रकाश में लाए हैं।
यह पोर्टल प्रबुद्ध व समाज के प्रति स्वयंमेव
जिम्मेदारों के द्वारा चलाया जा रहा है जिसमे
आने वाले आर्थिक भार को सहने के लिए इन्हे
आज समाज की आवश्यकता है। इस पोर्टल
को चलाये रखने व गुणवत्ता को उत्तम रखने
में हर माह टीम को लाखों रूपए की
आवश्यकता पड़ती है। हमें मिलकर इनकी
सहायता करनी है वर्ना हमारी आवाज उठाने
वाला कल कोई मीडिया पोर्टल नहीं होगा।
कुछ रूपए की सहायता अवश्य करे व इसे
जरूर फॉरवर्ड करे अन्यथा सहायता के
अभाव में यह पोर्टल अगस्त से काम करना
बंद कर देगा। क्योंकि वेतन के अभाव में
समाचार-दाता दूसरे मीडिया प्रतिष्ठानों में चले
जाएंगे। व जरूरी खर्च के आभाव में हम
अपना काम बेहतर तरीके से नही कर पायेंगे। 
UPI : aakhirisach@postbank 
Paytm : 8090511743

Share
error: Content is protected !!