GA4

नींव पटवानें की शिकायत से ऊबकर, केरोसिन लेकर पहुंचा कलेक्ट्रेट, प्रशासन के फूले पैर, जौनपुर।

Spread the love
कलेक्ट्रेट आत्मदाह करने पहुंचे व्यक्ति को पकड़कर ले जाती पुलिस।
कलेक्ट्रेट आत्मदाह करने पहुंचे व्यक्ति को पकड़कर ले जाती पुलिस।


जौनपुर कलेक्ट्रेट में मंगलवार की दोपहर 12 बजे उस समय हड़कंप मच गया, जब एक फरियादी अपने परिवार के साथ केरोसिन लेकर पहुंच गया। वह डीएम के पास जा रहा था। हालांकि सुरक्षा कर्मियों ने उसे पहुंचने के पहले ही पकड़ लिया। पूरी घटना से काफी देर तक कलेक्ट्रेट में हड़कंप मचा रहा। फरियादी का आरोप था कि विरोधी उसका मकान नहीं बनने दे रहे हैं। नींव तक पटवा दिए।


रेनू शर्मा मार्डर मिस्ट्री की हो सीबीआई जांच डाक्टर पाण्डेय आखिरी रिपोर्ट


पुलिस कार्रवाई के बजाए उससे ही पैसा की मांग करती है। लाइन बाजार थाना क्षेत्र के अहिरौली निवासी ओम प्रकाश अपनी पत्नी, बेटे और परिवार अन्य सदस्यों के साथ कलेक्ट्रेट आया था। वह बोतल में केरोसिन लिए डीएम के पास जा रहा था कि रास्ते में ही सुरक्षा कर्मियों ने उसे पकड़ लिया। जिसके बाद वह चीख-चीख कर अपनी व्यथा सुनाने लगा। जिसका वीडियो भी वायरल हो रहा है।


गोण्डा पुलिस नें गैंग बनाकर व दौडा़कर पीटनें, दाँत तोड़नें, व एक को बेहोशी तक मारनें पर लगाया 323, 504 व 506


वीडियो में ओम प्रकाश आरोप लगा रहा था कि उसके पट्टीदार उसका मकान बनने नहीं दे रहे हैं। बहुत बार शिकायत कर चुका हूं। लेकिन, कोई सुनवाई नहीं होती है। विरोधी उसकी पत्नी के साथ छेड़खानी भी किए। आरोप लगाया कि पुलिस के लोग पैसा पा जाते और कहते हैं कि उसका बनेगा, तुम्हारा नहीं बनेगा।


बोगस 10 लाख की चेक पर हो गया बैनामा आखिरी सच पर प्रदेश की व्यवस्था का सच दिखाती रिपोर्ट।


इतना ही नहीं, फरियादी ने वीडियो में यह भी आरोप लगाते हुए कहा कि सिपाही पीयूष सिंह ने उससे पैसे की भी मांग की। कहा कि मैं 200 रुपये की रोज नौकरी करता हूं, पैसा कहाँ से दूं। आरोप लगाया कि उसके चचेरे भाई का मोबाइल भी छीन लिए हैं। पीड़ित का बार-बार यही कहना था कि हमारा मकान बनना चाहिए।


ग्यारह वर्षीय बच्चे पर 35 वर्षीय दलित महिला के साथ छेड़छाड़ के आरोप में छेड़छाड़ व दलित उत्पीड़न लगा मोदी मानिया व सुशासन बाबू का प्रताप झेलता यादव 


वहीं, इस संबंध में थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार मिश्रा का कहना है, कि वह फरियाद करने गया था। राजस्व विभाग की टीम के साथ पुलिस जाएगी और समस्या का समाधान कराएगी। वहीं, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल ने कहा कि जैसा कि थानाध्यक्ष ने बताया कि घटना 5 दिसम्बर की है।


यादव परिवार पर स्थानीय दबंगों का कहर। घर से किया बेघर।


 शिकायत पर पुलिस ने निर्माण कार्य रोकवा दिया था। इधर प्रशासन द्वारा तथाकथित तौर एक पक्ष इसकी थाने या तहसील शिकायत न करके सीधे केरोसिन लेकर कलेक्ट्रेट पहुंच गया। जबकि आखिरी सच की पड़ताल में, उक्त बातें प्रशासन नें केवल अपनीं बचत हेतु यह कहना कि पीड़ित का स्थानीय स्तर पर शिकायत लेकर नही आना फिलहाल कोरी किवदंती मात्र है, जबकि पीड़ित थाना, तहसील दिवस, व अधिकारियों के चक्कर लगाकर व थानें में अवैध वसूली से ऊबकर केरोसिन लेकर आत्मदाह करनें गया था। पूरे प्रकरण की जांच के लिए पत्र लिखूंगा। राजस्व टीम और पुलिस मौके पर गई है,समस्या का समाधान कराया जा रहा है।


इस पत्रक की हर दबाई गयी वास्तविक पीड़ित तक व पीड़ित से भर कर हम तक पहुंचाने में हमारी सहायता करें।
इस पत्रक की हर दबाई गयी वास्तविक पीड़ित तक व पीड़ित से भर कर हम तक पहुंचाने में हमारी सहायता करें।

https://aakhirisach.com/wp-content/uploads/2022/02/IMG-20220222-WA0011.jpg
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!