GA4

अन्तर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था नें विप्र कल्याण बोर्ड के गठन पर, राजस्थान सरकार को ज्ञापित किया आभार।

Spread the love


अंतराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था ने विप्र कल्याण बोर्ड के गठन के लिए लिखा धन्यवाद पत्र व याद दिलाया ओसडी लोकेश शर्मा के पक्ष में लिखे पत्र के बारे में।

राजस्थान में विप्र कल्याण बोर्ड का गठन होने से देश भर के ब्राह्मणों में खुशी की लहर है, व समूचे देश से ब्राह्मण संगठन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर कर रहे हैं आभार व्यक्त।

आभार पत्र पर लिखे शब्द

वादे तो सब करते हैं पर वादों को निभाने का हौंसला बिरलों में ही होता है, आज राजस्थान ही नहीं समूचे देश में आपके ब्राह्मण समाज के लिए किए गए अभूतपूर्व कार्य “विप्र कल्याण बोर्ड के गठन” की सराहना हो रही है।

राजस्थान सरकार में विप्र कल्याण बोर्ड के गठन किये जाने पर आपका हृदयतल से आभार व साधुवाद, इसके लिए अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था आपको आश्वस्त करती है कि हम सदैव आपके लिए तत्पर व प्रतिबद्ध रहेंगे। आदरणीय अशोक गहलोत साहब इस क्रम में आपसे अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था का एक और अनुरोध है जिसके बारे में आपको पूर्व में भी दो बार पत्र लिखकर अवगत करवाया जा चुका है। समाज के शिरोमणि श्री लोकेश लोकेश शर्मा विशेषाधिकारी, मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार ने अपने राज्यधर्म का व कर्तव्यों का निर्वाहन किया गया जिसका प्रतिफल षड्यंत्रकारियों द्वारा राजस्थान सरकार गिराने में विफल रहने पर खिसयानी बिल्ली खम्भा नोचे वाला कृत्य कर उन्हें कुचक्र में फंसा दिया गया।

ऐसे में अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था आपसे विनम्र निवेदन करती है, श्री लोकेश शर्मा की यथासंभव सहायता कर उनकी रक्षा की जाए। इसके लिए अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था सदैव आपकी आभारी रहेगी।

इसी क्रम में अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंस्था के प्रमुख राष्ट्रीय सचिव पंडित बृजेन्द्र शुक्ला ने भी लिखा है अशोक गहलोत को बधाई पत्र व साथ में याद दिलवाया ओसडी लोकेश शर्मा के पक्ष में लिखे पत्र के बारे में।


यदि आप चाहते हैं कि आखिरी सच परिवार की कलम अविरल ऐसे ही चलती रहे कृपया हमारे संसाधनिक व मानवीय संम्पदा कडी़ को मजबूती देनें के लिये समस्त सनातनियों का मूर्तरूप हमें सशक्त करनें हेतु आर्थिक/ शारीरिक व मानसिक जैसे भी आपसे सम्भव हो सहयोग करें।aakhirisach@postbank

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!