GA4

बड़ागांव थाना प्रभारी पर लगा एससी एसटी एक्ट, मुकदमा लिखनें में देरी का परिणाम मिला महेश पाण्डेय को।

Spread the love


मामला वाराणसी के ग्रामीण क्षेत्र के थाना बडा़गांव से सामने आया है, जहां थाने में किशोरी के अपहरण का मुकदमा दर्ज करने में देरी और तथाकथित रूप से दुर्व्यवहार करने के आरोप में पूर्व थाना प्रभारी पर मानवाधिकार आयोग के हस्ताक्षेप के बाद एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर दिया गया हैं।

मानवाधिकार आयोग में दर्ज कराई शिकायत

मामला वाराणसी (ग्रामीण) के बड़ागांव थाना क्षेत्र के परसादपुर गाँव का है, जहां परिजनों ने थाना प्रभारी पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए मानवाधिकार आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी। एक दलित किशोरी अपने रिश्तेदार के घर रहती थी। 10 जून 2019 को किशोरी लापता हो गई थी। उसके पिता मुंबई में रहते थे। 12 जून 2019 को किशोरी के पिता बड़ागांव थाने में शिकायत दर्ज कराने के लिए पहुंचे। आरोप है कि बड़ागांव थाने के तत्कालीन थाना प्रभारी महेश पांडेय ने तहरीर तो ले ली लेकिन मुकदमा दर्ज नहीं किया। इस दौरान उनसे बद्सलूकी भी की। पिता वापस मुंबई लौट गए और बेटी की खोजबीन करने लगे। 26 जून 2019 को थाने आए तब जाकर मुकदमा दर्ज किया गया। थानाप्रभारी के व्यवहार से दुखी होकर किशोरी के पिता ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में गुहार लगाई थी।

मुकदमा हुआ दर्ज

पूरे मामले को देखते हुए वर्तमान थाना प्रभारी बड़ागांव ने चंद्रिका राम निरीक्षक अपराध शाखा, अनु. विभाग खण्ड वाराणसी के निर्देश पर बीते दिन 17 फरवरी 2022 को पूर्व थाना प्रभारी महेश पाण्डेय के खिलाफ एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया हैं।


यदि आप चाहते हैं कि आखिरी सच परिवार की कलम अविरल ऐसे ही चलती रहे कृपया हमारे संसाधनिक व मानवीय संम्पदा कडी़ को मजबूती देनें के लिये समस्त सनातनियों का मूर्तरूप हमें सशक्त करनें हेतु आर्थिक/ शारीरिक व मानसिक जैसे भी आपसे सम्भव हो सहयोग करें।aakhirisach@postbank

https://aakhirisach.com/wp-content/uploads/2022/02/IMG-20220222-WA0011.jpg
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!