GA4

कादीपुर कोतवाल का फोन उठना बन्द, सूरापुर चौकी क्षेत्र में डिग्री कालेज का प्रवक्ता घर में घुसकर करता है छेड़छाड़, पुलिस का मूक समर्थन है प्राप्त।

Spread the love
सुल्तानपुर में युवक को मारी गोली। - Dainik Bhaskar

आखिरी सच टीम की विशेष जमीनी पड़ताल में आज हम ले चल रहें हैं जनपद सुल्तानपुर की पुलिस विभाग के कोतवाली कादीपुर की चौकी सूरापुर के गांव खण्डौरा का मामला आया है सामनें एक मुस्लिम बेटी के साथ एक मुस्लिम जाति के ही पेशे से अध्यापक मोहम्मद असहद जो कि ब्लाक प्रमुख श्री श्रवण मिश्र जी के पंण्डित रामचरित मिश्र डिग्री कालेज पड़ेला कादीपुर सुल्तानपुर में प्रवक्ता के पद पर कार्यरत है व दो अज्ञात लोगों  के संरक्षण में लड़की के घर में मध्यरात्रि कूदकर छेड़छाड़ का प्रयास किया गया जबकि उक्त समय लड़की के पिता पड़ोसी जनपद रिश्तेदार के यहां शादी में निमंत्रण गये थे। जब लड़की नें शोर मचाया तो बडी़ बहन व पड़ोसियो के आ जानें के कारण चक्त दोषी घर से भाग गये।

जबकी पीड़िता द्वारा तत्काल डायल 112 पर प्रकरण की शिकायत की गयी लेकिन कुछ कार्यवाही नही हुई 1090 के हस्ताक्षेप के बाद 112 आयी व कल गिरफ्तारी की बात करी।

20 फरवरी से पीड़िता व परिजन चौकी व कोतवाली कादीपुर के व पुलिस विभाग के 112 मुख्यालय व 1090 के हस्ताक्षेप के बाद भी आज तीन दिन बीतनें को हैं लेकिन एक चौकी के सिपाही अय्यूब की मित्रता व ब्लाक प्रमुख के शैक्षणिक संस्थान में प्रवक्ता होनें के कारण विवाद को जमीनी विविद का लबादा स्थानीय जिम्मेदारों द्वारा ओढ़ाया जा रहा है। आज तीन दिन बीत जानें के बाद भी कोतवाली कादीपुर द्वारा एफाईआर आज तक पंजीकृत नही की गयी है।

पीड़िता पत्र लेकर रोड़ पर चक्कर लगाने को विवश।

सेवा में,

श्रीमान् प्रभारी निरीक्षक महोदय,

थाना / कोतवाली कादीपुर, जनपद सुलतानपुर।

विषयः दर्ज किये जाने प्राथमिकी एवं उपलब्ध करवाये जाने सुरक्षा।

महोदय,

निवेदन यह है, कि प्रार्थिनी अज्ञात पुत्री अज्ञात खान निवासिनी ग्राम – खण्डौरा, पुलिस चौकी सूरापुर, थाना/ कोतवाली कादीपुर, जनपद- सुलतानपुर की मूल निवासिनी है।

प्रार्थिने के पिता इब्राहिम के कोई सन्तान न होने के कारण व प्रार्थिनी की माँ का देहान्त हो जानें से पिता इब्राहिम के अकेले होने के कारण उनकी देखभाल खाना पानी के प्रबन्ध हेतु प्रार्थिनी अपनी बड़ी बहन के साथ ही पिता के निवास स्थान ग्राम खण्डौरा में ही रहते है।

दिनांक 19 फरवरी को प्रार्थिनी के पिता एक शादी में सरीक होने के लिए टाण्डा जनपद अम्बेडकरनगर गये हुए थे। जिससे 19 व 20 फरवरी की रात में प्रार्थिनी व उसकी बहन अकेले ही घर पर थी।

जिस बात की बखूबी जानकारी प्रार्थिनी के पड़ोसी मो० असहद सुत मो० अय्यूब निवासी ग्राम को रही उक्त असहद अपनी गलत नीयत से प्रार्थिनी के साथ छेड़छाड़ किये जाने हेतु तकरीबन 12 से 1 बजे के बीच रात में दक्षिणी दीवार से कूदकर प्रार्थिनी के घर में चले आये और छेड़छाड़ करना शुरु कर दिये प्रार्थिनी के चिल्लाने पर उसकी बड़ी बहन व अगल – बगल के लोग आ गये जिस पर उक्त मो० असहद भागने का प्रयास किया जिसको प्रार्थिनी व उसकी बड़ी बहन पकड़ने का प्रयास किये लेकिन सफल नहीं हो सकीं।

मेरे द्वारा त्वरित पुलिस सहायता प्राप्ति हेतु डायल 112 से मदद माँगी गयी। उपलब्ध न होने पर पुनः डायल 1090 पर सम्पूर्ण घटना को बताया गया। जिसकी उपस्थिति 12 से 1 बजे के मध्य रात्रि में हुई वे लोग आ करके अभियुक्त को पकड़ने का प्रयास न करके दिन में पकड़ने की बात कह कर चले गये।

जिस पर दूसरे दिन प्रार्थिनी द्वारा 1090 पर फोन किया गया तो वे लोग आये और अभियुक्त के विरुद्ध कोई कार्यवाही न करके समझा बुझाकर चले गये अभियुक्त मो० असहद के साथ उनकी कवरिंग के लिए दो अन्य व्यक्ति भी थे। जिन्हें हम पहचान नहीं सके। ऐसी स्थिति में घटना कि लीपा – पोती की जा रही अभियुक्तगण को बचाया जा रहा है।

अभियुक्त असहद का आपराधिक इतिहास है। और वह प्रार्थिनी व उसके परिवार को धमकी देते हुए अन्य संज्ञेय जुर्म करने के लिए कहा जा रहा है। जिससे प्रार्थिनी व उसका परिवार अभियुक्तगण से भयाक्रान्त होकर के असुरक्षित तौर पर जीवन व्यतीत कर रहा है। जिसके सम्बन्ध में प्राथमिकी दर्ज कर विवेचना सुनिश्चित करते हुए उसे सुरक्षा प्रदान किया जाना न्याय संगत है। अतः श्रीमान जी से निवेदन है कि उपरोक्त कारणों के आधार पर प्रार्थिनी की प्राथमिकी दर्ज करते हुए विवेचना सुनिश्चित करते हुए उसे सुरक्षा व अभियुक्त व सहयोगियों को संवैधानिक कार्यवाही की जाय।

अति कृपा होगी।

प्रार्थिनी


 

Share
error: Content is protected !!