GA4

अखिलेश क्यों परेशान हो? अन्ना मवेशियों के खैरमख्वाह हैं, योगी मोदी।

Spread the love


यूपी विधानसभा चुनाव में बड़ा मुद्दा बन चुके आवारा पशुओं के मामले में 5 सालों तक किसानों को 500 रूपये महीनें पर रात दिन अन्ना मवेशियों की रखवाली का जिम्मा देनें के प्रमुख नियोजक माननीय योगी आदित्यनाथ ने भी अपना प्लान बुधवार को बताया। इससे पहले मंगलवार को बहराइच में पीएम मोदी ने आवारा पशुओं से निजात के लिए 10 मार्च के बाद प्लान बनाने की बात कही थी। समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव लगातार आवारा पशुओं का मामला उठा रहे हैं।


विज्ञापन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर भाजपा सरकार बनाती है तो छुट्टा पशुओं की देखभाल करने वाले किसानों को 900 से 1000 रुपये महीने दिया जाएगा। अमेठी में चुनाव प्रचार के दौरान सीएम योगी ने कहा कि आवारा पशुओं को गोद लेने और उनकी देखभाल करने वाले किसानों के लिए योजना लाई जाएगी। इसी के तहत हर महीने 900-1000 रुपये देंगे।

सीएम योगी ने दोहराया कि हमने अवैध बूचड़खानों को पूरी तरह से बंद कर दिया है। हम गौमाता का वध नहीं होने देंगे लेकिन किसानों के खेतों को आवारा मवेशियों से भी बचाएंगे। अखिलेश अपने हर चुनाव में छुट्टा पशुओं खासकर सांड को लेकर सीएम योगी को घेर रहे थे। सांड के कारण किसानों की फसलों की बर्बादी का मामला उठाकर उनकी सहानुभूति लेने की कोशिश कर रहे थे। किसानों के दर्द को भांपते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बहराइच में छुट्टा जानवरों से छुटकारा दिलाने को लेकर बड़ा वादा किया। पीएम मोदी ने कहा कि यूपी के किसानों को छुट्टा जानवरों से हो रही दिक्कतों को हम गंभीरता से ले रहे हैं। हमने रास्ते खोजे हैं। उन्होंने कहा कि 10 मार्च को आचार संहिता समाप्त होने के बाद, नई सरकार बनने पर योगी जी के नेतृत्व में उन सारी नई योजनाओं को हम लागू कर देंगे।



प्रधानमंत्री की क्या थी योजना किसानों को लेकर

पीएम मोदी ने अभी हाल ही में बुंदेलखंड की धरती से कहा था, ”हम यूपी में डेयरी सेक्टर के विस्तार के लिए पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए निरंतर काम कर रहे हैं। पूरे यूपी में बायोगैस प्लांट का नेटवर्क भी बनाया जा रहा है। जो डेयरी प्लांट हैं वह गोबर से बनी बायोगैस से बिजली बनाएं, इसकी व्यवस्था की जा रही है। हमारा प्रयास है कि दूध ना देने वाले जो बेसहारा पशु हैं उसके गोबर से भी पशुपालक को इनकम हो, अतिरिक्त कमाई हो, हम इस दिशा में काम कर रहे हैं। यूपी में बेसहारा पशुओं के लिए गोशालाओं के निर्माण का काम किया जा रहा है। 10 मार्च को दोबारा सरकार बनने के बाद ऐसे कार्यों को और गति दी जाएगी ताकि बेसहारा पशुओं से होने वाली परेशानी कम हो आपका जो संकट है, उसको हम दूर कर पाएं, यह हम चिंता करते हैं।”

बुंदेलखंड में पानी की किल्लत का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा था, ”बुंदेलखंड के लाखों किसान कितने दशकों से केन-बेतबा को लिंक करने की मांग करते रहे हैं। लेकिन ये काम पूरा करने का बीड़ा भी डबल इंजन सरकार ने उठाया है। 44 हजार करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बुंदेलखंड के खेत खेत तक पानी पहुंचाया जाएगा। ये हमारी ही सरकार है जिसने यहां के किसानों की इस तकलीफ को समझा। बाणसागर परियोजना, अर्जुन सहायक परियोजना, सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना, ऐसी कितनी ही परियोजनाएं डबल इंजन की सरकार ने पूरी कराई हैं 10 मार्च को जब फिर डबल इंजन की सरकार आएगी, तो तेजी से नल कनेक्शन देने का काम किया जाएगा। मेरी माताएं बहनें तो नल से जल के मेरे अभियान को लेकर मुझे लगातार आशीर्वाद दे रही हैं।”


यदि आप चाहते हैं कि आखिरी सच परिवार की कलम अविरल ऐसे ही चलती रहे कृपया हमारे संसाधनिक व मानवीय संम्पदा कडी़ को मजबूती देनें के लिये समस्त सनातनियों का मूर्तरूप हमें सशक्त करनें हेतु आर्थिक/ शारीरिक व मानसिक जैसे भी आपसे सम्भव हो सहयोग करें।aakhirisach@postbank

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!