GA4

आन कैमरा हाँ मैंनें भी की है हत्या, सांसद बृजभूषण शरण सिंह।

Spread the love

brij bhushan sharan singh,UP Election


यूपी के कैसरगंज से भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहते हैं। सिंह का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि मेरे जीवन में मेरे हाथ से एक हत्या हुई है। उन्होंने एक डिजिटल चैनल से बात करते हुए इसका पूरा वाकया भी बताया। गौरतलब है कि कैसरगंज से सासंद सिंह भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष हैं।

हत्या को लेकर एक पुराना वाकया याद करते हुए सिंह ने एक समाचार संस्थान से कहा, “रवींद्र सिंह, अवधेश सिंह और हम तीनों कॉमन दोस्त थे। मैं ठेकेदारी की लाइन में था। उस दौरान मैंने ही रवींद्र सिंह को इस काम में लगाया था।” उन्होंने कहा कि हम एक पंचायत में गये थे। मेरी किंकर सिंह से बात हो रही थी। हम दोनों हाथ मिलाकर बात ही कर रहे थे कि तभी हर्रैया के रंजीत सिंह ने अपना माहौल बनाने के लिए मौके पर पहुंचकर हवाई फायरिंग कर दी।



उन्होंने कहा कि मेरे बगल में रवींद्र सिंह खड़े थे लेकिन इस बात की मुझे जानकारी नहीं थी। तभी मुझे अचानक गोली की आवाज सुनाई दी। मैंने देखा कि किसी ने रवींद्र सिंह को गोली मार दी है और वो जमीन पर गिर पड़े। इसके बाद मैंने किंकर सिंह से अपना हाथ छुड़ाकर रवींद्र को गोली मारने वाले की पीठ में राइफल से गोली मार दी और वो वहीं मर गया। बाद में मेरे ऊपर आनंद सिंह ने गैंगेस्टर लगवा दिया था।

बता दें कि बृजभूषण शरण सिंह उत्तर प्रदेश में अपनी दबंग छवि के लिए जाने जाते हैं। ऐसे में उनके ठेकेदारी करने के दौरान उनकी लोगों से रंजिशें भी रहीं। इसमें एक नाम जो सबसे अधिक लिया जाता है वो पंडित सिंह का है। गौरतलब है कि पंडित सिंह तीन बार गोंडा सदर से विधायक और मुलायम सिंह यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रहे थे।

हालांकि बृजभूषण शरण सिंह और पंडित सिंह दोनों कभी एक दूसरे के काफी करीब भी रहे। लेकिन समय के साथ दोनों में दुश्मनी भी देखी गई। बता दें कि मई 2021 में कोरोना की वजह से पंडित सिंह का निधन हो गया था। इस दौरान लाख अदावतों के बाद भी बृजभूषण शरण सिंह ने उनकी अर्थी को कंधा भी दिया था।


यदि आप चाहते हैं कि आखिरी सच परिवार की कलम अविरल ऐसे ही चलती रहे कृपया हमारे संसाधनिक व मानवीय संम्पदा कडी़ को मजबूती देनें के लिये समस्त सनातनियों का मूर्तरूप हमें सशक्त करनें हेतु आर्थिक/ शारीरिक व मानसिक जैसे भी आपसे सम्भव हो सहयोग करें।aakhirisach@postbank

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!