GA4

पंकज धवरैय्या को हाथरस प्रशासन नें गुण्डा किया घोषित, सवर्ण व समस्त सनातनी समाज व कई संगठन खुलकर आये सामनें।

Spread the love


हाथरस प्रसाशन नें एक बार फिर सामाजिक रूप से सवर्ण व गरीब पीड़ितों की दबाई गयी आवाज को संबल देनें वाले पंकज धवरैय्या पर गुण्डा होनें की मुहर लगा दी है। आपको पता हो कि पंकज धवरैय्या राष्ट्रीय सवर्ण परिषद नामक संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, जबकि प्रशासन से यदि यह पूछा जाय कि धवरैय्या द्वारा क्या व कैसी गुण्डई की गयी, जो सामाजिक मूल्यों के खिलाफ रही। तो शायद फर्जी षड़यंत्रान्तर्गत दर्ज केस जो भी हों लेकिन समाज के किसी आम आदमी द्वारा धवरैय्या पर प्रताड़ित करनें य किसी भी प्रकार का एक भी अभियोग आज तक नही है।



जबकि हाथरस के बूलगढी़ में प्रेम प्रसंग के मामले में तीन निर्दोष ठाकुरों को बचानें का मामला रहा हो य भरतपुर राजस्थान की बलात्कार पीड़िता बेटी का मामला रहा हो, य किसी कन्नोजिया का मामला रहा हो य प्रजापति का य मुस्लिम का यदि गलत किसी को प्रताड़ित किया जाता है व धवरैय्या के पास पीड़ित न्याय की आकाँक्षा लेकर पहुँचता है तो धवरैय्या उसकी लड़ाई आर पार तक लड़ते हैं।


विज्ञापन

आज जबकि धवरैय्या जी पर प्रशासन द्वारा प्रताड़ित करनें मात्र के उद्देश्य से यह प्रपंच जो रचे जा रहें हैं पर अवतार सिंह मिगलानी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखण्ड भारत विकास पार्टी नें आर पार की लडा़ई लड़नें की बात टेलीफोनिक वार्ता में आखिरी सच से कहीं। वही राष्ट्रवादी पार्टी आफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष नें पूरे मामले की निंदा की व हर कदम पर पार्टी व पदाधिकारी धवरैय्या जी के साथ रहनें व संघर्ष में साथ देनें की बात कही।



वही आरक्षण संघर्ष समन्वय समिति के प्रमुख समन्वयक एडवोकेट अभयकांत मिश्रा नें प्रशासन के इस प्रकार के नियोजित षड़यंत्रान्तर्गत कार्यवाही की निंदा की है। अलीगढ़ से शोभित भरद्वाज जिला प्रतिनिधि उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल नें अलीगढ़ से हाथरस तक व्यापारियों के प्रदर्शन की बात कही। वहीं हाथरस व अलीगढ़ न्याय चक्र फाउंडेशन नें धवरैय्या के समर्थन में संघर्ष की बात कही है। वही विष्णु पाठक आजाद, इंजीनियर दुर्गेश पाण्डेय आदि नें भी मुद्दे की निंदा की।


यदि आप चाहते हैं कि आखिरी सच परिवार की कलम अविरल ऐसे ही चलती रहे कृपया हमारे संसाधनिक व मानवीय संम्पदा कडी़ को मजबूती देनें के लिये समस्त सनातनियों का मूर्तरूप हमें सशक्त करनें हेतु आर्थिक/ शारीरिक व मानसिक जैसे भी आपसे सम्भव हो सहयोग करें।aakhirisach@postbank

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!