GA4

कानपुर २००५ में एसिड अटैक पीड़िता से सत्रह साल बाद दिल्ली में किया बलात्कार, ६ माह बाद बेंग्लोर से गिरफ्तार।

Spread the love


वर्ष 2005 में जिस युवती पर तेजाब फेंका और फिर सात वर्ष की जेल काटी। 17 वर्ष बाद उसी से दुष्कर्म करने वाले आरोपित को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान उत्तर प्रदेश के कानपुर के सूटरगंज के कपिल गुप्ता उर्फ आशीष गुप्ता के रूप में हुई है। आरोपित दो महीने से फरार चल रहा था।
दिल्ली पुलिस के उपायुक्त समीर शर्मा ने बताया कि पीड़िता ने मार्च में पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाई थी कि आरोपित कपिल गुप्ता ने दिसंबर 2021 में उसके पति व बच्चों पर एसिड अटैक की धमकी देकर उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान उसने वीडियो भी बनाया।

वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर आरोपित ने दोबारा भी दुष्कर्म किया। सुल्तानपुरी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की तो पता चला कि आरोपित कपिल गुप्ता पीड़िता को जानता था। वर्ष 2005 में आरोपित ने कानपुर में पीड़िता पर एसिड अटैक किया था। इस मामले में उसे सात वर्ष की सजा हुई थी। इसके बाद पीड़िता की शादी हो गई थी और वह दिल्ली में रह रही थी। जेल से बाहर आकर आरोपित ने पीड़िता का पता लगाया और 13 दिसंबर, 2021 को उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान आरोपित ने वीडियो भी बनाया।



आरोपित को पकड़ने के लिए स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर अजमेर सिह की देखरेख में एक टीम बनाई गई। टीम ने कई जगह छापेमारी की, लेकिन आरोपित का पता नहीं लग पाया। इसके बाद पुलिस को पता लगा कि आरोपित कर्नाटक में छिपा हुआ है। पुलिस कर्नाटक पहुंची व तीन दिन तक आरोपित को पकड़ने का प्रयास करती रही। आखिरकार आरोपित को कर्नाटक के बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया।

दिल्ली पुलिस के उपायुक्त समीर शर्मा ने बताया कि पीड़िता ने मार्च में पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाई थी कि आरोपित कपिल गुप्ता ने दिसंबर 2021 में उसके पति व बच्चों पर एसिड अटैक की धमकी देकर उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान उसने वीडियो भी बनाया।

वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर आरोपित ने दोबारा भी दुष्कर्म किया। सुल्तानपुरी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की तो पता चला कि आरोपित कपिल गुप्ता पीड़िता को जानता था। वर्ष 2005 में आरोपित ने कानपुर में पीड़िता पर एसिड अटैक किया था। इस मामले में उसे सात वर्ष की सजा हुई थी। इसके बाद पीड़िता की शादी हो गई थी और वह दिल्ली में रह रही थी। जेल से बाहर आकर आरोपित ने पीड़िता का पता लगाया और 13 दिसंबर, 2021 को उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान आरोपित ने वीडियो भी बनाया।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!