GA4

भरतपुर दो चचेरी बहनों की बारात सात फेरों के बाद पांच लाख व बाइक के बिना वापस पुलिस ने शिकायत दर्ज की।

Spread the love


राजस्थान के भरतपुर में दहेज नहीं देने पर विदाई के समय सजी-धजी दो दुल्हनों को छोड़ कर दूल्हे चले गए। दरअसल वहां दो चचेरी बहनों की शादी दो सगे भाइयों के साथ बीती रात संपन्न हुई और सुबह जब विदाई होनी थी तो दूल्हे पक्ष के लोगों ने दहेज की मांग कर दी।

मामला बयाना थाना के सिकंदरा गांव का है, जहां के निवासी दो चचेरी बहन सुषमा भारती और राजकुमारी की शादी बीती 11 मई को संपन्न हुई थी। सुबह दोनों दुल्हनों की विदाई होनी थी मगर विदाई के समय दूल्हे के परिजनों ने ढाई लाख रुपये और मोटरसाइकिल दहेज में देने की मांग की। दोनों दुल्हनों के माता-पिता ने जब उनकी मांग पूरी नहीं की।

फिर दोनों दूल्हे विदाई के समय सजी- धजी दोनों दुल्हनों को छोड़कर चले गए। इस घटना के बाद दोनों दुल्हन अपने परिजनों के साथ बयाना थाने पहुंची व दहेज के लोभी दूल्हों के परिजनों के खिलाफ शिकायत दर्ज करा।

फिलहाल पुलिस ने शिकायत ले ली है और जांच की जा रही है। इस मामले में दुल्हन सुषमा भारती ने कहा कि हम दोनों बहनों की शादी संपन्न हो गयी थी और फेरे भी पड़ गए थे, आज सुबह हमारी ससुराल के लिए विदाई होनी थी मगर दूल्हे के परिजनों ने 5 लाख रूपये, मोटर साइकिल और सोने के कुछ आभूषण दहेज़ में मांगे थे।

वहीं, पूर्व सरपंच तेज सिंह ने बताया कि गांव में दो चचेरी बहनों की शादी हुई थी लेकिन सुबह विदाई के वक्त दूल्हे के परिजन 5 लाख रूपये और बाइक मांगने लगे, जब दहेज़ नहीं दिया तो दुल्हनों को छोड़कर चले गए है, उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की जा रही है।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!