GA4

दरोगा करता रहा महिला सिपाही से छेड़छाड़, जब बर्दाश्त से हुआ बाहर सिपाही नें किया एसपी से शिकायत, नैतिकता विहीन दरोगा भेजा गया जेल।

Spread the love


प्रयागराज। जार्जटउन थाने में महिला सिपाही से छेड़खानी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि थाने में पूर्व में तैनात रहे एक दरोगा ने उसे अपने सरकारी आवास में बुलाकर छेड़छाड़ और अश्लील हरकत की। विरोध पर मारपीट करते हुए धमकी दी। यही नहीं दरोगा की पत्नी ने भी पीड़िता को जातिसूचक गालियां देते हुए मारपीट की और उसे धमकाया। पुलिस ने पति-पत्नी पर नामजद केस दर्ज कर आरोपी दरोगा को गिरफ्तार कर लिया है। महिला सिपाही शहर के एक थाने में करीब तीन साल से तैनात है। इसी थाने से संबंधित एक पुलिस चौकी में कुछ समय पूर्व तक दरोगा महेश चंद्र निषाद भी तैनात था। महिला सिपाही ने पुलिस अफसरों को बताया है कि थाने में तैनाती के बाद से ही दरोगा उस पर बुरी नजर रखता था। उसे आए दिन फोन कर जबरन परेशान किया करता था। बात करने का दबाव डालता था।

गाजीपुर जिले की रहने वाली कांस्टेबल की पोस्टिंग यहां थाने पर है। कांस्टेबल द्वारा दी गई तहरीर के मुताबिक आरोपित दरोगा महेशचंद्र निषाद भी 2019 से 2022 तक उसी थाने पर तैनात था। बताते हैं कि हाल ही में एसएसपी द्वारा उसे सस्पेंड किया गया था। इन दिनों आरोपित दरोगा पुलिस लाइन में था। कांस्टेबल ने तहरीर में बताया कि एक ही थाने पर तैनात होने की वजह से दोनों में बातें हुआ करती थीं। वर्ष 2020 में आरोपित ने कांस्टेबल को अपना जूता दिया था। उस जूते को वापस करने के लिए कांस्टेबल दरोगा महेशचंद्र निषाद पुलिस चौकी अल्लापुर गई थी। दरोगा चौकी के बगल में ही आवास बना रखा था। कांस्टेबल जूता देने के लिए उसे फोन की। इस पर आरोपित उसे कमरे के अंदर आने के लिए आवाज दिया। विश्वास में कांस्टेबल उसके आवास में चली गई। बताई कि थोड़ी देर तक बैठने के बाद वह लौटने के लिए दरवाजे की तरफ बढ़ी तो दरोगा उसे पीछे से पकड़ कर जबरदस्ती करने लगा। उसका मुंह दबाकर छेड़खानी करता रहा। किसी तरह उसके चंगुल से खुद को छुड़ा कर कांस्टेबल भागकर रूम से बाहर आई और मुकदमा लिखाने की बात करने लगी। इस बीच दरोगा लगातार माफी मांगता रहा।

मना करने के बावजूद आरोपित उसके पास फोन करता और बातें होती रहीं। इस बीच कांस्टेबल का मोबाइल नंबर आरोपित दरोगा से उसकी पत्नी बिन्दू देवी ले ली और बातें करने लगी। दरोगा की हरकतों के बारे में कांस्टेबल उसकी पत्नी को बताई तो वह भी पति की तरफ से माफी मांगने लगी। इधर कुछ दिनों से किसी बात को लेकर उसकी पत्नी ने भी बात करना बंद कर दिया। इस बाबत जानकारी के लिए जब कांस्टेबल 19 मई को आरोपित दरोगा महेशचंद्र के पास वह फोन की तो वह बताया कि उसकी पत्नी गाली दे रही और मारने की बात कह रही। इस पर वह उसकी पत्नी के पास फोन की तो वे गालियां देने लगी। आरोप है कि दरोगा महेशचंद्र ने भी उसे गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी दी। पीडि़त कांस्टेबल की तहरीर पर पुलिस आरोपित दरोगा महेशचंद्र निषाद व उसकी पत्नी बिन्दू देवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। जार्जटाउन पुलिस द्वारा शनिवार दोपहर आरोपित दरोगा को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। एक कांस्टेबल द्वारा दी गई तहरीर पर जार्जटाउन में आरोपित दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। उसी मामले में आरोपित को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है।-अजीत सिंह चौहान, सीओ कर्नलगंज


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!