GA4

दिग्विजय सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष की रेस… दिल्ली से आया बुलावा

Spread the love

अभी-अभी दिग्विजय को केरल से बुलाया गया दिल्ली, कांग्रेस अध्यक्ष की दौड़ में शामिल
रात तक दिल्ली पहुंचेंगे दिग्विजय सिंह, कल दाखिल कर सकते हैं कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन…
भोपाल. मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह का नाम अचानक कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में सामने आ गया है। दिग्विजय सिंह को बुधवार से दिल्ली से बुलावा आया है और वो रात तक दिल्ली पहुंच सकते हैं। बता दें कि दिग्विजय सिंह अभी केरल में हैं और राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के इंचार्ज के तौर पर काम कर रहे हैं। अचानक दिल्ली से दिग्विजय को फोन कर दिल्ली बुलाए जाने के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का दौर तेजी से शुरु हो गया है और कहा जा रहा है कि दिग्विजय सिंह दिल्ली पहुंचने के बाद कल यानि गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल कर सकते हैं।

उच्चाधिकारियों द्वारा बच्चों के शोषण का विरोध अध्यापिका एकता हुई जातिवाद का शिकार, नौकरी से बहिस्कृत, छात्र व अध्यापक, एकता के पक्ष में।

अभिषेक चढ़ार की मौत शायद खोल दें, भोपाल श्रमोदय विद्यालय के प्रादेशिक जिम्मेदारों की आंखे, अभिनिका पाण्डेय हैं य शामत, उक्त केस में आखिरी सच का सनसनीखेज खुलासा, फांसी ड्रामा था अभिषेक के सर पर चोट पायी- पिता।

ऐसे सामने आया दिग्विजय का नाम..
बता दें कि राजस्थान में मची सियासी उठापटक के बाद दिग्विजय का नाम तेजी से कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए सामने आया है। वहीं कमलनाथ ने भी खुद को कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर कर लिया है। ऐसे में दिग्विजय सिंह का नाम निकल सामने आया है। दिग्विजय सिंह ने इस बात के संकेत पहले ही दे दिए थे कि अगर राहुल और प्रियंका गांधी अगर कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ते हैं और अगर मेरी पसंद का कोई कैंडिडेट नहीं उतरता है तो वो खुद चुनाव लड़ सकते हैं। दिग्विजय सिंह का राहुल और सोनिया गांधी का करीबी होने का फायदा भी मिल सकता है। 10 साल तक एमपी के सीएम रहने वाले कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव का पद भी संभाव चुके हैं।

कमलनाथ बोले- मैं मध्यप्रदेश छोड़कर नहीं जाऊंगा
खुद को कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर कर चुके प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने भोपाल में पीसीसी दफ्तर में दिग्विजय के अध्यक्ष बनने के सवाल पर मीडिया से कहा कि ये सवाल दिग्विजय सिंह से पूछना चाहिए। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी से उनकी करीब एक महीने पहले बात हुई थी तब उन्होंने राहुल गांधी से नेतृत्व करने के लिए कहा था लेकिन राहुल गांधी ने मना कर दिया। कमलनाथ ने दिल्ली में सोनिया गांधी से हुई मुलाकात के बारे में बताते हुए कहा कि उन्होंने सोनिया गांधी से कहा है कि वो फिलहाल मध्यप्रदेश में ही रहेंगे और मध्यप्रदेश को छोड़कर नहीं जाएंगे क्योंकि उनका पूरा ध्यान मध्यप्रदेश पर ही है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!