GA4

गांव ऐसा जहां आज तक कोई नाली नही बनी, भौगौलिक स्थित दयनीय स्थानीय जिम्मेदार तालाब बनवानें को तत्पर, गांव का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड स्तर पर होना ही चाहिये दर्ज।

Spread the love

प्रतापगढ़ (मुनेश मिश्र) उत्तर प्रदेश मे एक गांव ऐसा भी जहां आजतक कोई नाली नही बनी। इस गांव का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड स्तर पर होगा दर्ज।

योगी राज में कैसे होगा गांव का विकास या विनाश। कुण्डा प्रतापगढ कुंण्डा। तहसील ब्लाक के। बिसहिया ग्रामसभा मे एक गांव ऐसा भी है जो पूरे उत्तर प्रदेश मे। इकलौता गांव होगा। जहां देश आजाद हुए 75 वर्ष हो गए लेकिन कृष्णा राम का पुरवा एक ऐसा, एतिहासिक गांव बन गया जहाँ आज तक नाली का। आविष्कार नही हुआ कितनी बार तहसील। दिवस मे DM प्रतापगढ़ को कितनी ही बार अवगत कराया गया।

50 घरों वाले इस गांव जिसमें लगभग 250 से 300 जनसंख्या है, जिसमे एससी समुदाय के 10 घर है, ब्राह्मण समुदाय के घर लगभग 40 घर है। जबकि गांव के वर्तमान प्रधान लक्ष्मण सरोज जी हैं, जो कि इरफानुद्दीन उर्फ चुन्ने जो कि बिसहिया ग्राम पंचायत मुख्यालय के रहनें वाले हैं के नियोजित संरक्षण में चुनाव जीते हैं। जबकि लक्ष्मण सरोज जो कि सुबेदार का पुरवा के निवासी है।



2 अक्टूबर विशेष अपडेट जरूर पढ़ें, पढ़नें के लिये फोटो पर क्लिक करें।


प्रधान आये- गए लेकिन। आज भी ग्राम प्रधान से ग्रामीण बोलते है तो ग्राम प्रधान एक ही शब्द बोलता है, हम नही बनवा सकते चाहे जहां शिकायत कर लो कुछ नही होना बारिश के मौसम मे बाढ़ जैसे हालात हो जाते है, दो साल बीतने वाला है, वर्तमान ग्राम प्रधान का कार्य काल लेकिन ग्राम प्रधान के कानों में जू तक नही रेगं रही है।

गांव की भौगोलिक स्थिति जो कि इस प्रकार है, उत्तर रेलवे खण्ड के रेलवे स्टेशन कुण्डा से प्रयागराज रूट पर स्थित भदरी स्टेशन पर प्रयागराज की ओर बढ़ते हुऐ खिदिरपुर से लक्षी पुर बिहार रोड के रेलवे फाटक के पास लाइन के दक्षिणी छोर पर स्थित है। जिसको शारदा सहायक नहर पोषित भदरी रजबहा गांव के पूरब की तरफ से निकलता है, जबकि गांव दक्षिणी छोर से प्रयागराज  लखनऊ  राष्ट्रीय राज मार्ग संख्या 30 निकलता है। जबकि गांव से पश्चिम में लक्षीपुर खिदिरपुर मार्ग जाता है, जिसकी सड़क पर रेलवे गुमटी के पास एक पाइप लगभग 12 इंच व्यास का पडा़ है, जो गांव की ओर ही पानी देता है। इस प्रकार  हम आप गांव के तालाब बनाये जानें का नियोजित उपक्रम  देख व समझ सकते हैं।

अब देखना यह है की ऐसे भ्रष्ट ग्राम प्रधान के उपर मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ के DM प्रताप गढ CDO प्रताप गढ का चाबुक कब चलता है ग्रामीण लगा रहे न्याय की गुहार।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!