GA4

पलामू एक और बेटी बनी दहेज नामक राक्षस का निवाला, गाड़ी की मांग को लेकर गला दबाकर की हत्या।

Spread the love

झारखंड। पलामू जनपद गेरुआ गांव निवासी नंदू चौधरी की पत्नी 23 वर्षीया ज्ञानती देवी की गला दबाकर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है। महिला की मां विरवा कुंवर ने थान में आवेदन देकर बेटी की हत्या का आरोप उसके पति सहित अन्य पर लगाया है। पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर आरोपी पति को गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया। पुलिस ने गुरुवार को ही शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।



घटना के संबंध में मृतका की मां पलामू जिलांतर्गत चैनपुर थाना के हरिनामाड़ निवासी विरवा कुंवर ने बताया कि उसकी बेटी की शादी 2019 में गेरूआ गांव निवासी नंदू चौधरी के साथ की थी। शादी के बाद से ही उसकी बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था। उसने बुधवार को भी 10 हजार रुपये फोन पे से नंदू को दिया था। उसके बाद भी वह मोटरसाइकिल की मांग कर रहा था। मोटरसाइकिल नहीं मिलने से नाराज उसके पति ने अन्य परिवारी लोगों के साथ मिलकर बेटी का बुधवार देर शाम गला दबाकर हत्या कर दी।



आरोप लगाया कि बेटी की हत्या दामाद नंदू ने अपनी मां बसमतिया कुंवर, भाई लालजी चौधरी और गोतनी मानती देवी के साथ मिलकर की। आरोप लगाया कि घटना के बाद परिवार वालों ने जानकारी नहीं दी। गांव के मुखिया और पंचायत समिति सदस्य से घटना की जानकारी मिली। उसके बाद वह बेटी के घर पहुंच जानकारी ली।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!