GA4

पुलिस की शह पर महराजगंज रोड बछरावां की बियर दुकान पर भरी केन के नाम पर फूटी केन बेंचनें का अवैध कारोबार।

Spread the love

बछरावां। गौशाला के निकट स्थित बीयर की दुकान, महाराजगंज रोड बछरावां में संचालित बियर की दुकान की काली करतूत, पुलिस को रखते हैं अपनी मुट्ठी में। आज शाम 6:30 बजे इस दुकान के सामने कार से निकल रहे अनिल सिंह द्वारा बीयर की दुकान के पास बैठे लड़के से दो बीयर लाने के लिए कहा और पैसे दे दिए।

इस पर लड़का बियर की दुकान से दो केन लेकर आया। परंतु यह क्या एक केन तो फ़टी हुई थी। फटी हुई बोतल वापस करने के लिए कहने पर सेल्समैन ने कहा इसी लड़के ने केन फोड़ी है। और आंखों के इशारे से लड़के को भाग जाने को कहा।

काफी जद्दोजहद के बाद जब ग्राहक ने फिर और पैसे देकर दूसरी केन ली और उसे एक बार उसके काउंटर पर पटका लेकिन केन पर कोई असर नहीं पड़ा फिर उसने दोबारा पटक कर दिखाया उस पर कोई असर नहीं पड़ा फिर तीसरी बार लेकिन कोई आँच तक नहीं आई तब ग्राहक ने बोला कि जब इतनी तेज पटकने के बाद भी केन नहीं टूट रही है। तो उस लड़के से कैसे इतनी जल्दी टूट गई?



इसका मतलब यह था उस लड़के को टूटी हुई केन देकर दुकान द्वारा नई काली करतूत की जा रही है। असलियत में होता क्या है, यह अपने ही लड़के को सेट रखते हैं और उसको फूटी केन पकड़ा देते हैं, बाद में कस्टमर से जद्दोजहद करने लगते हैं कि यह तो लड़के ने तोड़ी है। अंत में कस्टमर मन मार कर दूसरी बोतल खरीद लेता है, और उसको वहीं पर छोड़ देता है, फिर टूटी हुई केन को बेंचनें का काम करनें पर सेट लोगों को 50 रुपये दे देते हैं।

इस तरह हरामखोरी कर सेल्समैन जेब भरते हैं, और जब पुलिस पर शिकायत करने के लिए कहा गया, तो सेल्समैन बोला पुलिस हमारी तो मुट्ठी में है, आप कुछ भी कर लो हम सब को सेट कर के रखते हैं। कोई नही आएगा यहां हमसे कुछ कहने। यह घृणित कारनामा कान्हा गौशाला निकट बीयर की दुकान द्वारा अंजाम दिया जा रहा है।

जहां अभी तक डुप्लीकेट शराब नकली शराब बेची जाती थी, अब वहां पर अपनी जेब भरने के लिए सेल्समैन नयी व काली करतूत को अंजाम दे रहे हैं। और यह सब पुलिस के देखरेख में हो रहा है। विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इसका एक मोटा कमीशन पुलिस को जाता है। और ग्राहकों को इस bear की दुकान पर जमकर खुलेआम लूट की जाती है।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!