GA4

सिवान में तिरंगे झंडे से अशोक चक्र को हटाकर इसकी जगह दो तलवारों के चिह्न वाला तिरंगा लहराया गया।

Spread the love

बिहार। दो जिलों से राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा का अपमान करने का मामला सामने आया है। ईद मिलादुन्नबी (पैगंबर मुहम्मद के जन्मदिवस) के जुलूस के दौरान रविवार (9 अक्टूबर, 2022) को सिवान में तिरंगे झंडे से अशोक चक्र को हटाकर इसकी जगह दो तलवारों के चिह्न वाला तिरंगा लहराया गया। वहीं, शिवहर में अशोक चक्र की जगह चाँदनुमा आकार वाले झंडे के साथ जुलूस निकाला गया। इसका वीडियो वायरल होने के बाद लोगों में खासा आक्रोश है। विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने इस घटना को राष्ट्रद्रोह और तिरंगे का अपमान बताते हुए दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई करने की माँग की है।



रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिवान और शिवहर में ईद मिलादुन्नबी के दौरान राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला तूल पकड़ने के बाद दोनों जिले की पुलिस जाँच में जुट गई है। शिवहर में आरोपितों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। सदर एसडीओ ने बताया कि मामले की जाँच चल रही है। इस दौरान एक युवक को हिरासत में भी लिया गया है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि यह किसी पार्टी विशेष का भी झंडा हो सकता है, क्योंकि बिना अशोक चक्र के तिरंगा झंडा राष्ट्रीय ध्वज नहीं हो सकता।

शिवहर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जुलूस में तिंरगे के बीच से अशोक चक्र हटाकर और चाँदनुमा आकार का झंडा बनाया गया था। यह झंडा जुलूस के साथ पूरे रास्ते में लहराते हुए नजर आया। एसपी अनन्त कुमार राय ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसकी जानकारी मिलने के बाद भाजपा जिलाध्यक्ष संजीव कुमार पांडेय ने जिलाधिकारी मुकुल गुप्ता से कहा कि तिंरगे का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसे असामाजिक तत्वों पर राष्ट्रद्रोह की धारा के तहत मुकदमा दर्ज किया जाए।

इसके बाद डीएम मुकुल गुप्ता ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जाँच के आदेश दिए है। जाँच की जिम्मेदारी सदर एसडीओ मोहम्मद इश्तियाक अली अंसारी और डीएसपी को सौंपी गई है। इस मामले में विश्व हिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष अशोक उपाध्याय ने कहा, “हम इस तरह के राष्ट्र विरोधी कुकृत्य की घोर निंदा करते हैं और जिला प्रशासन से आग्रह करते हैं कि इन असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई करें, ताकि भविष्य में कोई भी इस तरह की घटनाओं को दोहरा ना सके।”

बता दें कि जून 2022 में भी तेलंगाना के महबूबनगर से इसी तरह राष्ट्रीय ध्वज की एक हैरान करने वाली तस्वीर सामने आई थी। महबूबनगर में बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी को लेकर प्रदर्शन किया गया था। विरोध के दौरान प्रदर्शनकारियों ने तिरंगे का अपमान किया था। इसमें अशोक चक्र की जगह ‘कलमा’ लिखा हुआ था। अशोक पंडित ने इस तस्वीर को अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया था।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!